• Mon. May 23rd, 2022

TOPINFORMATIVENEWS.XYZ

Latest National, International, Mumbai & Suburbs Of Mumbai News Of Political, Sports, Share Market, Crime & Entertainment

भोजपुरी फिल्म जगत में लगभग 50 खलनायक हैं और बिना किसी संगठन या असोसिएशन के वे लोग मात्र एक व्हाट्सएप्प ग्रुप द्वारा खुद को संगठित किये हुए हैं । पिछले साल 23 अप्रैल को खलनायको ने अपने ग्रुप एंटी हीरोज के माध्यम से एक छत के नीचे आकर एकता को मजबूती प्रदान की थी । मंगलवार को वे सभी एक बार फिर इकट्ठा हुए और ना सिर्फ एक दूसरे का दुःख सुख बांटा बल्कि ग्रुप के तीन सदस्यों हीरा लाल यादव, उमेश सिंह और देव सिंह का सामूहिक जन्मदिन मनाया । तीनो खलनायको का जन्मदिन इसी सप्ताह होने के कारण ही ग्रुप ने तीनों खलनायको की जानकारी के बिना उन्हें सरप्राइज़ देने हेतु ये फैसला किया ।  नियत समय पर सभी एंटी हीरोज इकट्ठा हुए और धूम धाम से जन्मदिन सेलिब्रेट किया । इस मौके पर एक परिचर्चा भी रखी गई जिसका विषय था भोजपुरी ने क्या दिया । ग्रुप के वरिष्ठ सदस्य ब्रजेश त्रिपाठी, राम मिश्रा , अनूप अरोरा ने बताया कि भले ही उन्होंने दर्ज़नो हिंदी फिल्म की है पर पहचान भोजपुरी से ही मिली ।

अनिल यादव, सुशील सिंह, अवधेश मिश्रा , संजय पांडे, प्रकाश जैस, मनोज टाईगर , राजन मोदी ,अयाज़ खान, मनीष चतुर्वेदी, जय सिंह, विकास सिंह बिरप्पन,  सूर्या द्वेदी,  करण पांडे, बालेश्वर सिंह, विष्णु शंकर बेलू, धर्मेंद्र सिंह, भोजपुरिया काका अरुण सिंह , पप्पू यादव, संतोष पहलवान, वैभव राय, जसवंत जैस, असगर खान, बबलू खान , अखिल तिवारी सोनू पांडे, जस्सी सिंह  सहित सभी एंटी हीरोज ने एक मत से स्वीकारा की भोजपुरी से ही उन्हें नाम , दाम और शोहरत मिली है  ।  मौके पर आगामी 23 अप्रेल को एंटी हीरोज ग्रुप की स्थापना दिवस धूमधाम से मनाने का फैसला लिया गया ।